रुद्री पाठ, Rudri Path PDF Free Download 2023

दोस्तों आज के लेख में हम रुद्री पाठ के ऊपर चर्चा करने वाले है तथा आपको इस पोस्ट के नीचे Rudri Path PDF मिल जायेगा जिसे आप अपने मोबाइल में निःशुल्क डाउनलोड कर सकते हैं। इसके अलावा आपको इस लेख में रुद्री पाठ का lyrics भी मिल जायेगा जिसकी सहायता से आप रुद्री पाठ कर सकते हैं।

इसके अलावा आज के लेख में आप रुद्री पाठ क्या है ?, इसे पढ़ने का तरीका तथा इसके पढ़ने के लाभ भी बताने वाला हु , तो शिव भक्तो से अपेक्षा है की इस लेख के साथ अंत तक बने रहे , ताकि आपको रुद्री पाठ के बारे में पूरी जानकारी मिल सके।

Rudri Path PDF Overview

PDF NameRudri Path PDF (रुद्री पाठ )
PDF size3.5MB
PDF Page225
PDF Languageहिंदी /संस्कृत
PDF Creditगीता प्रेस ,गोरखपुर
PDF Categoryधार्मिक /Religious
PDF Update27 अप्रैल

Rudri Path PDF

रूद्र पाठ pdf क्या है ?

रुद्री पाठ भगवान शिव को समर्पित एक वैदिक पाठ है, जो हिंदू धर्म के प्रमुख देवताओं में से एक है।भगवान शिव को ही वेदो और पुराणों में रूद्र कहा जाता है क्युकी ये भक्तो के सभी दुःख को हर लेते हैं।कई वेदो में रुद्री पाठ को रुद्री सूक्त या रुद्र प्रश्न भी कहा गया है। 

रुद्री पाठ में यजुर्वेद के छंद शामिल हैं, तथा यजुर्वेद में रूद्र अध्याय भगवान रूद्र देव को समर्पित है। जो कि चार प्राचीन हिंदू ग्रंथों में से एक है। 

रुद्राभिषेकम, अर्थात की अगर हम ने रूद्र पाठ करते हुए भगवान शिव का अभिषेक किया तो भक्तो के कई जन्मो के पाप धुल जाते हैं। इसीलिए रूद्र पाठ भगवन शिव को समर्पित एक पूजा अनुष्ठान है। जिसे विभिन्न महत्वपूर्ण अनुष्ठानों और समारोहों के दौरान पारंपरिक रूप से प्रशिक्षित वैदिक पुजारियों के द्वारा सस्वर पाठ किया जाता है।

रुद्री पाठ को  एक बहुत शक्तिशाली पूजा मंत्र माना जाता है और माना जाता है कि इस पाठ में नकारात्मक ऊर्जा को दूर करने और शांति और समृद्धि लाने की क्षमता है।इसके अलावा रुद्री पाठ करने से यह शारीरिक और मानसिक बीमारियों पर काबू पाने में भी मदद करता है।

रूद्रा अभिषेक को यदि रुद्री पाठ के साथ किया जाता है तो इसका प्रभाव और अधिक बढ़ जाता है। रुद्री पाठ करते समय शिवलिंग पर जल ,दूध ,पंचामृत ,आमरस ,गन्ने का जूस तथा नारियल का रस चढ़ाया जाता है। इसी को हाँ रुद्रभिषेकम कहते हैं। 

रुद्री पाठ का पाठ आमतौर पर संस्कृत में किया जाता है, जो कि विश्व की सबसे प्राचीन भाषा है, और इसे पूरा करने में कई घंटे लग सकते हैं। हालाँकि, रुद्री पाठ  के छोटे संस्करण भी उन लोगों के लिए उपलब्ध हैं जो सस्वर पाठ पर इतना समय व्यतीत करने में सक्षम नहीं हैं।

Rudri Path PDF
Rudri Path PDF

रुद्री पाठ रुद्री पाठ करने की विधि

रुद्री पाठ एक वैदिक पाठ है जो पारंपरिक रूप से प्रशिक्षित वैदिक पुजारियों द्वारा किया जाता है। इसे पूरा करने में कई घंटे लग जाते हैं ,हालाँकि, यदि आप स्वयं रुद्री पाठ करना चाहते हैं, तो उसकी प्रक्रिया यहाँ दी गई है :

रुद्री पाठ की तैयारी: रुद्री पाठ शुरू करने से पहले स्नान कीजिये तथा साफ वस्त्र को धारण कर लीजिये । आप अपने ध्यान को लगाने के लिए एक पवित्र स्थान या वेदी और हल्की धूप या मोमबत्तियाँ भी लगा सकते हैं।

रुद्री पाठ का आह्वान: रुद्री पथ शुरू करने से पहले भगवान गणेश का आह्वान करें, जिन्हें विघ्नहर्ता भी कहा जाता है। गणेश मंत्र, “ओम गं गणपतये नमः,” का तीन बार जाप करें।

रुद्री पाठ का सस्वर पाठ: रुद्री पाठ का सस्वर पाठ करें, जिसमें भगवान शिव को समर्पित यजुर्वेद के छंद शामिल हैं। सस्वर पाठ को  पूरा होने में कई घंटे लग सकते हैं, यदि आपके पास समय का आभाव हो तो आप रुद्री पाठ के छोटे संस्करण का भी पाठ कर सकते हैं। 

प्रसाद चढ़ाये : रुद्री पाठ के बाद, अपनी भक्ति और कृतज्ञता के प्रतीक के रूप में भगवान शिव को फूल, फल या अन्य वस्तुएं अर्पित करें।

निष्कर्ष: “ओम नमः शिवाय” या अन्य शिव मंत्रों का जाप करते हुए रुद्री पाठ को समाप्त करें, और आशीर्वाद और मार्गदर्शन के लिए भगवान शिव की अंतिम प्रार्थना करें।

नोट – रुद्री पाठ एक पवित्र और शक्तिशाली वैदिक पाठ है , इसीलिए इस का पाठ आपको सम्मान और ईमानदारी के साथ करना चाहिए।  यदि आप को इस का पाठ करने सक्षम नहीं है या इसकी प्रक्रिया से अज्ञान हैं तो बेहतर है की आप किसी प्रशिक्षित पुजारी या वैदिक पुजारी से ही रुद्री पाठ करवाए।

रुद्री पाठ के लाभ

रुद्री पाठ को एक शक्तिशाली वैदिक है। जिसका पाठ भगवान शिव की आराधना के लिए किया जाता है। रुद्री पाठ करने वालों के लिए इसके कई लाभ हैं, जो की निम्नलिखित हैं ,

नकारात्मक ऊर्जा को दूर करता है: रुद्री पाठ का पाठ करने से भक्तो के अंदर की नकारात्मक ऊर्जा दूर दूर होती है और उनके जीवन में शांति और समृद्धि लाने में मदद करता है।

मानसिक स्पष्टता को बढ़ाता है: रुद्री पाठ का जप करने से भक्तो की मानसिक स्पष्टता और ध्यान को बढ़ाने में मदद करती  है, जिसके कारन भक्तो को अधिक केंद्रित और ध्यान रखने  में मदद मिलती है।

शारीरिक उपचार में : सच्चे मन से  रुद्री पाठ का जप करने से शारीरिक और मानसिक बीमारियों  मुक्ति मिलती है 

सुरक्षा: रुद्री पाठ नकारात्मक प्रभावों से भक्तो की सुरक्षा करता है और भक्तो के जीवन में आने वाली कठिन परिस्थितियों से निपटने में मदद करता है।

आध्यात्मिक विकास: रुद्री पाठ का पाठ एक शक्तिशाली पाठ  माना जाता है जो कि भक्तो  को परमात्मा से जुड़ने और उनकी साधना को गहरा करने में मदद करता है।

रुद्री पाठ लिरिक्स (Lyrics )

नमस्ते रुद्रमन्यवौतोत ईशवे नमः ।

नमस्ते अस्तु धन्वने बहुभ्यामुत ते नमः ॥

नमो उग्रे नमते शिपे भगे नमः ।

नमो ईशव्य मृत्युर्मे पाहि श्रिंजिंवति ॥

नमो श्री कण्ठाय भक्तानां ईष्टदेवाय ।

नमस्ते अस्तु भगवन् विश्वेश्वराय महादेवाय ॥

नमस्ते अस्तु नीलकण्ठ महादेवाय ।

नमस्ते अस्तु नीलकण्ठ महादेवाय ॥

नमो शिवाय च शिवतराय च ।

नमो शिवाय च शिवतराय च ॥

नमो शिवाय च शिवतराय च ।

नमो शिवाय च शिवतराय च ॥

अथ मर्कण्डेय महापुराणे रुद्री अष्टकं सम्पूर्णम् ॥

नमः शिवाय च शिवतराय च ।

विश्वेश्वराय च महादेवाय च ॥

नमः शिवाय च शिवतराय च ।

शम्भवाय च महादेवाय च ॥

नमः शिवाय च शिवतराय च ।

पशुपतये च महादेवाय च ॥

नमः शिवाय च शिवतराय च ।

रुद्राय च महादेवाय च ॥

नमः शिवाय च शिवतराय च ।

नीलकण्ठाय च महादेवाय च ॥

नमः शिवाय च शिवतराय च ।

उमापतये च महादेवाय च

पूरा रूद्र पाठ पढ़ने के लिए Rudri Path PDF को डाउनलोड करें। जिसमे अर्थ के साथ रूद्र पाठ दिया हुआ है।

Conclusion :

तो आज के लेख में हमने रूद्र पाठ के बारे में विस्तार से जाना, तथा इसकी विधि और लाभ के बारे में भी अच्छे से जाना। इसके अलावा आप Rudri Path PDF को भी ऊपर दिए लिंक से डाउनलोड कर सकते हैं जोकि पूरी तरह से फ्री है।

अगर आपको आज का लेख पसंद आया हो तो आप इस लेख को अपने रिश्तेदारों और दोस्तों को भी ज़रूर शेयर करें। ताकि वह भी रूद्र पाठ का लाभ उठा सके। तथा ऐसे ही लेख देखने के लिए आप इस वेबसाइट पर रेगुलर विजिट भी करते रहें।

DCMA /Credit

इस वेबसाइट पर दी गई पीडीऍफ़ का इस वेबसाइट से कोई मतलब नहीं है। और ना ही इसे इस सर्वर पर अपलोड किया गया है। ये पाठको/दर्शको के लिए इंटरनेट पर मौजूद ओपन sourse से लिया गया है। अगर आपको कोई भी समस्या है तो आप हमें contact ज़रूर करे , हम 24 घंटे में इसे अपनी वेबसाइट से हटा देंगे।

इसे भी जरूर देखें

FAQ :

How many chapters are there in Rudri Path?

रुद्री पाठ में कुछ 8 चैप्टर/श्लोकमंत्र है। जिसे रूद्रष्ठइ भी कहा जाता है।

What are the benefits of chanting Rudri path?

रूद्र पाठ के पढ़ने से मन को शांति मिलती है तथा नकारात्मक ऊर्जा ख़त्म होती है। तथा इसके पाठ से मानसिक स्पष्टता को बढ़ाता है और ध्यान लगाने में भी सहायक होता है। इसके अलावा भी इसके पाठ से कोई लाभ मिलते हैं।

Rudri Path PDF कहा से मिलेगा ?

Rudri Path PDF डाउनलोड करने के लिए आप www.pdfsewa.in पर विजिट कर सकते हैं जहा पर आपको रुद्री पाठ के अलावा और भी कई देवताओ के श्लोक /मंत्र मिल जायेंगे।

Leave a Comment